प्रतिष्ठा महोत्सव के दौरान धूमधाम से मना तपकल्याणक महोत्सव - deshduniyaweb

deshduniyaweb

Local, National and International News

Breaking

मंगलवार, 11 दिसंबर 2018

प्रतिष्ठा महोत्सव के दौरान धूमधाम से मना तपकल्याणक महोत्सव

महाराजा अश्वसेन का दरबार
जैनियों के प्रसिद्ध तीर्थस्थल मधुबन स्थित सौरभांचल में तपकल्याणक धूमधाम से पूरी हुई। इस क्रम में पारस कुमार की संसार से सन्यास तक यात्रा पूरी हुई। कार्यक्रम में शामिल हर एक व्यक्ति भक्ति भाव से ओतप्रोत थे। ये सभी कार्यक्रम श्री 1008 पाश्र्वनाथ मज्जिनेन्द्र जिनबिम्ब पंचकल्याणक प्रतिष्ठा महोत्सव एवं विश्व शांति महायज्ञ को ले आयोजित किए गए। यह प्रतिष्ठा महोत्सव आगामी 13 दिसंबर तक चलेगा। इस छह दिवसीय कार्यक्रम में प्रतिदिन अलग कल्याणक मनाया जा रहा है।
      बताया जाता है कि मधुबन स्थित सौरभांचल में चल रहे पंचकल्याणक प्रतिष्ठा महोत्सव के चैथे दिन तपकल्याणक मनाया गया। कार्यक्रम की शुरूआत मंत्र आराधना, नित्यमह पूजा, जन्मकल्याणक पूजा, हवन आदि के साथ हुआ। हवन पूजा के बाद महाराजा अश्वसेन का दरबार सजा इसी क्रम में युवराज के राज्याभिषेक की तैयारी हुई। भेंट भी समर्पण किया गया तभी वैराग्य का भाव जागृत होता है। वैराग्य स्तुति होती है और राजकुमार दीक्षा के लिए वन प्रस्थान करते हैं। इसी क्रम में लौकान्तिक देवों द्वारा स्तुति, दीक्षा पालकी, वन गमन, दीक्षा विधि, अंकन्यास आदि  कार्यक्रमों का आयोजन किया गया। जहां एक ओर दोपहर में मंचीय कार्यक्रम के दौरान महाराज अश्वसेन का दरबार दर्शाया गया वहीं शाम को मंगल आरती व सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इस महोत्सव के दौरान कार्यक्रमों का सिलसिला सुबह पांच बजे ही शुरू हो जाता है जो देर रात तक चलता है। वहीं बुधवार को ज्ञान कल्याणक महोत्सव का आयोजन किया जाएगा। पूरे मधुबन को आकर्षक ढंग से सजाया संवारा गया है। बताते चलें कि यह महोत्सव गणाचार्य विराग सागर जी महाराज के सान्निध्य में किया जा रहा है।


कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Pages