गिरिडीह व्यवहार न्यायालय में मेडिएशन स्पेशल ड्राइव का आयोजन - deshduniyaweb

deshduniyaweb

Local, National and International News

Breaking

सोमवार, 17 दिसंबर 2018

गिरिडीह व्यवहार न्यायालय में मेडिएशन स्पेशल ड्राइव का आयोजन

 उच्च न्यायालय, झारखंड, रांची एवं  झालसा, रांची के निर्देशानुसार, व्यवहार न्यायालय, गिरीडीह में परिवारिक बाद से संबंधित मामलों के त्वरित निष्पादन हेतु मेडिएशन  स्पेशल ड्राइव का आयोजन दिनांक 17 दिसंबर 2018 से 19 दिसंबर 2018 तक किया जा रहा है। इस कार्यक्रम का शुभारंभ आज दिनांक 17-12 -18 को मध्यस्थता केंद्र भवन गिरिडीह में  प्रधान न्यायाधीश कुटुंब न्यायालय गिरीडीह  सुरेश चंद्र जायसवाल, अनुमंडल न्यायिक दंडाधिकारी गिरीडीह सह न्यायधीश प्रभारी  रंजय कुमार एवं दुर्गा प्रसाद पांडे अध्यक्ष जिला अधिवक्ता संघ के कर कमलों द्वारा दीप प्रज्वलित कर किया गया। इस कार्यक्रम को संबोधित करते हुए प्रधान न्यायाधीश कुटुंब न्यायालय सुरेश चंद्र जायसवाल ने कहा कि इस कार्यक्रम को सफल बनाने हेतु माननीय उच्च न्यायालय, झारखंड, रांची द्वारा प्रशिक्षित मध्यस्थ  गिरिडीह में आए हुए हैं। 3 दिनों तक स्पेशल ड्राइव पारिवारिक मामलों पर  किया जाना है ।उन्होंने कहा कि परिवारिक विवाद का निपटारा आपसी सहमति से होने पर दोनों पक्षों को मानसिक संतुष्टि मिलती है। इससे पक्षकारों को अपने पारिवारिक जीवन को बचा पाने में मदद मिलती है ।कोई भी व्यक्ति जिसका स्वयं का पारिवारिक जीवन में उथल-पुथल एवं अशांति रहता है तो वह समाज में सक्रिय रूप से अपनी भागीदारी नहीं निभा पाता है। इसका दुष्परिणाम उसके बच्चों पर पड़ता है। उन्होंने पक्षकारों, अधिवक्ताओं एवं आम जनों से इस कार्यक्रम का लाभ उठाने की अपील की ।कार्यक्रम का संचालन न्यायधीश प्रभारी सह अनुमंडल न्यायिक दंडाधिकारी रंजय कुमार ने विषय प्रवेश कराते हुए किया। उन्होंने कहा कि पारिवारिक विवाद से ग्रस्त परिवार में कभी स्थाई शांति का वातावरण नहीं हो सकता है ।उन्होंने कहा कि यह एक अवसर है जिसका लाभ पारिवारिक बाद में उलझे पक्षकारों को अवश्य उठाना चाहिए। कार्यक्रम को अध्यक्ष, जिला अधिवक्ता संघ, गिरिडीह  दुर्गा प्रसाद पांडे ने भी संबोधित किया। कार्यक्रम के सफल आयोजन हेतु माननीय उच्च न्यायालय, झारखंड,  रांची द्वारा कुल (5) मध्यस्थ संजय कुमार सिंह, भुनेश्वर राणा,  रेनू वर्मा,  उर्मिला, विभा रानी प्रसाद को नामित किया गया है ।कार्यक्रम को सफल बनाने में जिला विधिक सेवा प्राधिकार गिरिडीह के पीएलभी की भूमिका सराहनीय है।
 प्रथम दिन कुल प्राप्त मामले - 36 तथा कुल सुलह मामले- 07हैं।

                         

                             
             
                   

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

Pages