जनवरी में एक लाख लोगों को रोजगार देगी सरकार : मुख्यमंत्री - deshduniyaweb

deshduniyaweb

Local, National and International News

Breaking

शुक्रवार, 28 दिसंबर 2018

जनवरी में एक लाख लोगों को रोजगार देगी सरकार : मुख्यमंत्री

प्रेस वार्ता करते मुख्यमंत्री
झारखंड में रघुवर सरकार के चार वर्ष पूरे होने पर शुक्रवार को एक प्रेस कॉन्फेंस का आयोजन मुख्यमंत्री आवास पर किया गया।  इस प्रेस कॉन्फ्रेंस में सरकार का रिपोर्ट कार्ड जारी करते हुए मुख्यमंत्री रघुवर दास ने कहा कि साल 2018 समाप्त होने वाला है। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि उन तमाम उपलब्धियों पर चर्चा करना चाहते हैं जो इस वर्ष उनकी सरकार ने हासिल की। आगे कहा कि सरकार ने किसानों, गरीबों और महिलाओं के उत्थान के लिए कार्य किया।  इसमें मुख्य सचिव से चपरासी तक यानी टीम झारखंड की अहम भूमिका रही।
 झारखंड में चार साल में  सरकार ने जो कुछ हासिल किया वह केवल जनशक्ति और सरकार की शक्ति से संभव हुआ।
  अपनी बातों को रखते हुए कुछ इस अंदाज में कहा, -
‘‘अगर हमसे कोई गलती हुई तो मैं जनता से माफी मांगता हूं। मैं भी इंसान हूं, गलती हुई होगी। अलग राज्य बनने के बाद जितनी भी सरकार आयीं सबने अपने हिसाब से काम करने की कोशिश की उन्होंने अच्छा काम किया तो उन्हें बधाई। इतने सालों में स्थिरता का अभाव रहा। गठबंधन की राजनीति में सुशासन पीछे रह जाता है। भ्रष्टाचार और उग्रवाद पर लगाम कसी गयी। इन चार सालों में सरकार ने अच्छी नीयत से काम किया नीति भी अच्छी रही।‘‘

प्रधानमंत्री के जनकल्याण योजना को झारखंड में लागू किया गया। सखी मंडल के माध्यम से महिलाओं को भी उद्यमी बनाने का प्रयास किया जा रहा है। जिससे महिलाओं के जीवन में बदलाव आया है। महिलाओं को धुएं से आजादी मिल गयी है।  एक रूपये में रजिस्ट्री हो रही है। पहले महिलाओं का शोषण होता था। उन्हें डायन बताकर प्रताड़ित किया जाता था आज वे मालकिन बन गयी हैं।
इस क्रम में मुख्यमंत्री ने यह भी वादा किया कि अगले साल रांची में 27 हजार घर बनायेंगे। जल प्रबंधन को लेकर काम हो रहा है। झारखंड के नौजवान को  रोजगार देना बड़ी प्राथमिकता है। 10 जनवरी को एक लाख लोगों को रोजगार देंगे।
यही नहीं आदिवासियों के विकास के लिए काम हो रहा है। राज्य में 24 घंटे बिजली रहे इसकी व्यवस्था की जा रही है। 31 दिसंबर तक हर घर में बिजली होगी। 2019 से पहले ही यह लक्ष्य हासिल कर लिया है। बेटी बचाव बेटी पढ़ाओ अभियान के लिए भी काम हो रहा है। बच्ची के जन्म पर सरकार पांच हजार रुपये देगी और उसके जन्म से लेकर शादी तक बेटियों को पढ़ाने की जिम्मेदारी सरकार लेगी। साथ ही बाल विवाह को रोकने के लिए भी सरकार प्रतिबद्ध है। 
सीएम के प्रधान सचिव सुनील कुमार वर्णवाल ने कहा कि सरकार प्रत्येक वर्ष इस तरह का कार्यक्रम आयोजित करती है। इस कार्यक्रम का नाम सेवा सम्मान और विकास के चार वर्ष था।

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

Pages