पंचकल्याणक प्रतिष्ठा से मधुबन का माहौल हुआ भक्तिमय - deshduniyaweb

deshduniyaweb

Local, National and International News

Breaking

Home Top Ad

Responsive Ads Here

Post Top Ad

Responsive Ads Here

रविवार, 9 दिसंबर 2018

पंचकल्याणक प्रतिष्ठा से मधुबन का माहौल हुआ भक्तिमय

जैन धर्मावलंबियों के प्रसिद्व तीर्थस्थल मधुबन स्थित सौरभांचल में चल रहे श्री 1008 पाश्र्वनाथ मज्जिनेन्द्र जिनबिंब पंचकल्याणक प्रतिश्ठा एवं विश्व शांति महायज्ञ के महोत्सव के दूसरे दिन भी कार्यक्रमों झड़ी लगी रही। रविवार को गर्भकल्याणक उत्तरार्ध दिवस मनाया गया। सुबह पंाच बजे से ही  धार्मिक कार्यक्रमों की शुरूआत हो गयी थी जो देर रात चलती रही। कार्यक्रम को ले मधुबन का वातावरण पूरी तरह भक्तिमय हो गया है।
    आठ दिसंबर से चल रहे छह दिवसीय पंचकल्याणक प्रतिष्ठा महोत्सव में प्रतिदिन अलग- अलग कार्यक्रम किया जाना है। इसी कड़ी में रविवार को कार्यक्रम की शुरूआत मंच आराधना, नित्यमह पूजा व गर्भकल्याणक पूजा, हवन के साथ हुई। उसके बाद आचार्य श्री बाजे गाजे के साथ कार्यक्रम स्थल पहुंचे, इस दौरान जुलूस के शक्ल में भारी संख्या में भक्तगण भी आचार्य श्री के पीछे पीछे चल रहे थे। बता दें कि इस जिनबिंब पं्रतिष्ठा एवं विश्व शांति महायज्ञ के दौरान होने वाले सभी कार्यक्रम गणाचार्य विराग सागर जी महाराज के सान्निध्य में पूरे हो रहे हैं। इसी क्रम में आचार्य श्री ने कहा कि लोगों को धार्मिक कार्यों में रूचि रखनी चाहिए। धार्मिक कार्य से ही आत्म कल्याण का मार्ग प्रशस्त होता है। वहीं दोपहर को माता की गोद भराई समेत कई अन्य विधियां की गयी। साथ ही साथ नवीन वेदी शुद्धी, वेदी संस्कार व मंगल आरती का भी आयोजन किया गया। जहां एक और दिन भी कार्यक्रमों का सिलसिला चलता वहीं सात बजे मंचीय कार्यक्रम का आयोजन किया गया जिसमें राजा अश्वसेन का दरबार सजा। इस दराबार में राज्य व्यवस्था के स्वप्नों का फलादेश सुनाया गया। इसी क्रम में गीत, नृत्य, तत्व चर्या व छप्पन कुमारियों द्वारा भेंट समर्पण जैसे कार्यक्रमों का आयोजन किया गया। सोमवार को प्रतिष्ठा महोत्सव के दौरान जन्मकल्याणक मनाया जाएगा।

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

Post Bottom Ad

Responsive Ads Here

Pages