जानें दिसंबर माह में होने वाले व्रत, त्योहार - deshduniyaweb

deshduniyaweb

Local, National and International News

Breaking

सोमवार, 2 दिसंबर 2019

जानें दिसंबर माह में होने वाले व्रत, त्योहार


फोटो : गूगल सर्च
 दिसंबर माह 2019 में होने वाले व्रत त्योहार की सूची

2 दिसंबर - चंपा षष्ठी

चंपा  षष्ठी मुख्य रूप से महाराष्ट्र में मनाया जाने वाला व्रत है। भगवान शिव व कार्तिकेय की पूजा की जाती है। इस दिन उपवास रखा जाता है तथा शिव के मार्कंडेय स्वरूप की पूजा की जाती है। स्कंदपुराण के अनुसार यह व्रत भगवान कार्तिकेय को समर्पित है। इसलिए इसे स्कंद षष्ठी भी कहते हैं।

8 दिसंबर  -  मोक्षदा एकादशी, गीता जयंती 

मार्गशीर्ष शुक्ल एकादशी को मोक्षदा एकादशी कहते हैं। यह समस्त पापों को नष्ट कर मोक्ष देने वाला व्रत है। मोक्षदा एकादशी का व्रत रखने तथा कथा सुनने से सभी कामनाएं पूर्ण होती है ऐसी मान्यताएं हैं।

                             गीता जयंती श्रीमद भागवद् गीता का प्रतीकात्मक जन्म है। महाभारत युद्ध के दौरान कुरूक्षेत्र में भगवान श्री कृष्ण ने अर्जुन को इसी दिन गीता का ज्ञान दिया था। गीता जयंती मागशीर्ष शुक्ल एकादशी को मनायी जाती है।

9 दिसंबर - प्रदोष व्रत
इस व्रत में भगवान शिव की आराधना की जाती है। यह सोमप्रदोष व्रत संतान लाभ के लिए होगा।

11 दिसंबर - दत्तात्रेय जयंती

    महायोगीश्वर दत्तात्रेय भगवान विष्णु के अवतार हैं। समारोहपूर्वक दत्तात्रेय जयंती का उत्सव मनाया जाता है।

12 दिसबंर - मार्गशीर्ष पूर्णिमा

12 दिसंबर को मार्गशीर्ष की पूर्णिमा है। इस दिन स्नान, दान, व्रत आदि किया जायेगा।  

15 दिसंबर - संकष्टी चतुर्थी

 15 दिसंबर को संकष्टी चतुर्थी व्रत है इस दौरान भगवान गणेश की पूजा की जायेगी।

22 दिसंबर - सफला एकादशी

सफला एकादशी के देवता श्रीनारायण हैं। सफला एकादशी व्रत की विशेष महत्ता है।

23 दिसंबर - प्रदोष व्रत

25 दिसंबर - क्रिसमस डे

क्रिसमस या बड़ा दिन ईसा मसीह या यीशु के जन्म की खुशी में मनाया जाने वाला पर्व है।


26 दिसंबर - पौष अमावस्या, सूर्य ग्रहण

26 दिसंबर को खण्डसूर्यग्रहण लगेगा। वाराणसी से प्रकाशित पंचांगों के अनुसार ग्रहण की शुरूआत 8ः20 में होगी, 9ः40 में मध्य होगा तथा 11ः13 में मोक्ष हो जायेगा। 

27 दिसंबर - चंद्र दर्शन


कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

Pages