शैक्षणिक भ्रमण पर जायेंगे शिखरजी व आसपास के बच्चे - deshduniyaweb

deshduniyaweb

Local, National and International News

Breaking

बुधवार, 29 जनवरी 2020

शैक्षणिक भ्रमण पर जायेंगे शिखरजी व आसपास के बच्चे

 जैनियों के विश्व प्रसिद्ध तीर्थस्थल श्री सम्मेदशिखरजी में श्री दिगम्बर जैन शाश्वत तीर्थराज सम्मेदशिखर ट्रस्ट के द्वारा शिखरजी के आसपास ग्रामीण विद्यालयों के बच्चों में ज्ञान विकसित करने के निमित्त शाश्वत ट्रस्ट द्वारा दो दिवसीय शैक्षणिक भ्रमण का आयोजन किया जा रहा है।  बच्चों को शैक्षणिक भ्रमण  पर भेजा जा रहा है । ट्रस्ट के महामंत्री श्री राजकुमार जैन अजमेरा, हजारीबाग ने बताया कि छात्रों के नियमित शैक्षणिक भ्रमण पर जाने से जहाँ छात्र खुले वातावरण में शिक्षा को अपने व्यक्तिगत अनुभवों से परिभाषित करगें वहीं उनमें एक अनुभूति जागृत होगी। इस क्रम में वे भारत की विभिन्नता जैसे इतिहास, कला, संस्कृति और भौगोलिक विविधता को नजदीक से जान पायेंगे। इसके अतिरिक्त छात्रों में सामूहिक रूप से रहने की प्रवृति, नेतृत्व एवं निर्णय लेने की क्षमता का विकास होगा तथा आत्मविश्वास एवं भाई चारे की भावना प्रबल होगी है।  बताते हैं कि अभी तक ट्रस्ट चिकित्सा क्षेत्र में विकलांग शिविर, कैंसर निरोधक शिविर, नेत्र चिकित्सा कैम्प, एम्बुलेंस सुविधा, ग्रामीण बच्चों के प्रतिभा का विकास के लिए गांव स्तर पर आचार्य विद्यासागर फुटबाल टूर्नामेंट का आयोजन, बाल प्रश्नोत्तरी प्रतियोगिता, ठंड के समय शिखरजी के आस.पास के ग्रामीण क्षेत्रों में कम्बल वितरण जैसे अनेक जनकल्याणकारी योजनाएं चलाता रहा है।

                इस कार्यक्रम के संयोजक पुरन मांझी, सहसंयोजक मनोज अग्रवाल एवं सफदर अली ने बताया कि शैक्षणिक भ्रमण योजना के सभी कार्यक्रम को सुनिश्चित कर लिया गया है इसके लिए शिखरजी के आसपास के ग्रामीण विद्यालयों के बच्चे का भी चयन कर लिया गया है। भ्रमण को ले  बच्चों में काफी उत्साह देखा जा रहा है।

          शाश्वत ट्रस्ट के वरीय प्रबंधक प्रद्युम्न जैन, प्रबंधक संजीव जैन ने कहा कि इस कार्यक्रम को  साकार रूप देने के उद्देश्य से स्थानीय प्रबुद्ध व्यक्तियों तथा महत्वपूर्ण प्रशासनिक व्यक्तियों से संपर्क किया जायेगा तथा इन सभी के बीच ट्रस्ट के पदाधिकारियों द्वारा इस भ्रमण यात्रा को हरी झण्डी दिखा कर रवाना किया जायेगा। जिसमें कुल 50 बच्चों व 10 शिक्षकों का समूह ट्रस्ट के निहारिका प्रांगण से दिनांक 1 फरवरी सुबह 6ः00 बजे को प्रस्थान करेगा,  बच्चे नालंदा, राजगिरी, पावापुरी, बोधगया जैसे ऐतिहासिक विख्यात स्थानों का भ्रमण कर दिनांक 2 फरवरी को शाम के समय वापस आयेंगे। इस कार्यक्रम की सफलता के बाद शिक्षा के अन्य क्षेत्रों में भी अनेक योजनाएं चालू करने का प्रयास किया जाएगा। इस कार्यक्रम के मुख्य आयोजक श्री सम्मेदशिखरजी में श्री दिगम्बर जैन शाश्वत तीर्थराज सम्मेदशिखर ट्रस्ट ही है।

                                                         
                                                             -   ट्रस्ट के शिखरजी ऑफिस एडमिनिस्ट्रेटर, ए सईदी ने जैसा बताया
.

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

Pages