द ग्रज : डराने की असफल कोशिश - deshduniyaweb

deshduniyaweb

Local, National and International News

Breaking

शनिवार, 4 जनवरी 2020

द ग्रज : डराने की असफल कोशिश

फिल्म -  द ग्रज
निर्देशन - निकोलस पेस
प्रोड्युसर - सम रेमी
मुख्य कलाकार - बेट्टी गिलपिन, लिन शाय, एंड्रिया रोजबोरो, जॉन चो, डेमियन बिचिर

3 जनवरी 2020 को रिलीज हुई ‘द ग्रज‘  एक अमेरिकी सुपरनेचुरल हाॅरर फिल्म है। इस फिल्म को निकोलस पेस ने लिखा है और निर्देशित किया है। हलांकि इस फिल्म में नया कुछ नहीं है वही सब कुछ आपको देखने को मिलेगा जो आमतौर पर एक हाॅलीवुड हाॅरर फिल्म में देखते आये है। एक शापित घर, उस शापित घर में एक प्रेत तथा घर में आने वाला हर एक व्यक्ति उस भूत का शिकार। और इसी एक बिंदू पर कहानी बढ़ती चली जाती है। हलांकि कहानी को बताने के तरीके में एक नया प्रयोग करने की कोशिश की है बावजूद यह प्रयोग दर्शकों को लुभा नहीं पाता है।
   एक युवा महिला जासूस है जो अपने बेटे के साथ रहती है। उसे एक शापित घर के बारे में पता चलता है जिसमें एक प्रेत रहता है। और वह प्रेत उस घर में जाने वाले हर एक शख्स की निर्मम हत्या कर देता है। वह जासुस उस शापित घर के रहस्यों को सुलझाना चाहती है पर इसी क्रम में वह घोस्ट जासुस व उसके बेटे का दुश्मन बन जाता है। वह उस घोस्ट से अपने आपको व बेटे को कैसे बचाती है तथा बचाने में सफल हो पाती है या नहीं? यही इस फिल्म की कहानी है।
हलांकि इस तरह की कहानी हाॅरर मूवी के लिए नयी नहीं है। इस तरह की कहानी आप कई बार देख चुके होंगे। कहानी बताने के क्रम में नया प्रयोग किया गया है, जासूस जैसे जैसे फाइल पलटती जाती है कहानी भी आगे बढ़ती चली जाती है। इस फिल्म का बैकग्राउंड म्यूजिक तथा बीच बीच में डाले गये कुछ डरावने सीन से दर्शकों को डराने की भरपूर कोशिश की जाती है पर पूरी फिल्म हमें बांध नहीं पाती। और न ही हम फिल्म के किसी पात्र से भावनात्मक  रूप से जुड़ पाते हैं। भारत में इस फिल्म को अंग्रेजी के साथ-साथ हिंदी व अन्य भारतीय भाषाओं में भी रिलीज किया गया है।
      एक बात मैं यहां बता देना चाहता हूं कि इस समीक्षा को पूरी गंभीरता से न लें। अगर आपने फिल्म देखने का मन बना लिया है तो थियेटर जाकर जरूर देख लें। इस समीक्षा को एक दर्शक द्वारा की गयी समीक्षा के रूप में लें न कि एक सिद्धहस्त फिल्म समीक्षक की समीक्षा के रूप में।


                                                                                                             -  दीपक मिश्रा, देशदुनियावेब

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Pages