कुछ इस तरह होता है मीन राशि के जातकों का स्वभाव - deshduniyaweb

deshduniyaweb

Local, National and International News

Breaking

Home Top Ad

Responsive Ads Here

Post Top Ad

Responsive Ads Here

सोमवार, 16 मार्च 2020

कुछ इस तरह होता है मीन राशि के जातकों का स्वभाव

 
मीन राशि नभमंडल की बारहवीं तथा अंतिम राशि है। कालपुरूष की देह में इसका दोनों पैरों पर अधिकार है। परस्पर मुख-पुच्छ मिश्रित जल में दो मछलियों जैसी आकृतिवाली, उत्तर दिशा की स्वामिनी, स्त्री जाति, कफ प्रकृति, द्विस्वभाव संज्ञक, जलतत्व, विप्र वर्ण और रात्रिबली है।

   मीन जातक हमेशा इन विकल्पों में फंसे रहते हैं कि प्रकाश की तलाश में जायें या अंधेरे में डूब जाएं। ये दयालु होते हैं जब तक इन्हे परेशान ना किया जाय। जब ऐसा होता है तो ये बहुत कठोर हो जाते हैं। यदि इनकी नहीं सुनी जाए तो ये निराशा के सागर में गोते लगाने लग जाते हैं। और ये समय बर्बाद करने लगते हैं। सुस्त और उदास हो जाते हैं।

ये अपने सहानुभूतिपूर्ण स्वभाव के लिए जाने जाते हैं और पसंद किए जाते हैं। मीन जातक आकर्षक होते हैं और जीवन में कई चीजों के प्रति लापरवाह दृष्टिकोण रखते हैं। उनके लिए कठिन हो सकता है। एक बार ये नियमों का पालन करना और अनुशासन का एक निश्चित स्तर तक पालन करने लगे तो रास्ते सरल हो जाते हैं।

जब यह भारी हो जाता है तो इनकी संभावना पलायन और छुपने की हो जाती हैं। जबकि कमजोर लोगों की शराब और नशीली दवाओं में लिप्त होने की संभावना होती हैं। कुछ रचनात्मक कला, संगीत या कविता के माध्यम से अपनी भावनाओं को बाहर निकाल सकते हैं, लेकिन इनमें से ज्यादातर को शायद ही कभी उनके आसपास के लोग व्यक्तिगत आधार पर खोल सकते हैं।आध्यात्मिक मामलों और मनोगत विज्ञान उन्हें काफी हद तक मोहित करता हैं और ये संबंधित विषयों से प्यार करते हैं।       
   
  इस राशि के संरक्षक देव गुरू बृहस्पति हैं। इस राशि के जातकों में उच्चतम वक्तव्य क्षमता व किसी एक विषय पर  गहरी जानकारी होती है। आमतौर पर ईश्वर का दृढ़ विश्वास होता है। शारीरिक गठन की दृष्टि में सुंदर, आकर्षक, गोल व्यक्तित्व वाले होते हैं। इनकी आंखें खिलती हुई, सम्मोहन पूर्ण मुस्कान के साथ बरबस लोगों को अपने निकट खींच लेती है। वहीं गजब के वक्ता होने के साथ-साथ साहस भी कूट-कूट कर भरा होता है।
            यशस्वी होते हुए भी यह सदैव  यश के भूखे होते हैं। यह भी ध्यान देने वाली बात है कि यश के भूखे होने के बावजूद सच्चे, ईमानदार, दयालु तथा स्वतंत्र पकृति के होते हैं। अनगिनत मित्र होने के बावजूद इनका जीवन एकाकी  होता है और निरंतर ये पश्चाताप की अग्नि में जलते रहते हैं।

ऐसे होते हैं मीन राशि के पुरूष

मीन राशि वाले जातक हर पहलू के बारे में बहुत गहराई से सोचते हैं। यही कारण है कि वे दूसरों की भावनाओ को सुनते हैं साथी ही उनकी परेशानी कम करने का प्रयास करते हैं। ये बहुत मेहनती होता हैं इसी की वजह से अपने कार्य स्थल पर लोगों के बीच में काफी लोकप्रिय होते हैं। यह काफी भरोसे मंद होते हैं इसलिए किसी भी परेशानी से उबारने में दूसरों की मदद कर सकते हैं।  

ऐसी होती हैं इस राशि की स्त्रियां

इस राशि वाली स्त्रियां अपने साथी के प्रति वफादार होती हैं लेकिन ये उन्हें जितना प्रेम और आदर देती हैं उनसे भी उतने ही प्रेम की अपेक्षा भी रखती हैं। इन्हें ऐसे साथी पसंद होते हैं जो प्यार में ईमानदार हों और अपने रिश्तों को निभाने के लिए भरपूर प्रयार करने को तैयार रहें। मीन राशि की स्त्रियों की कल्पनाशीलता का हर कोई कायल होता है। ये अपने द्वारा किए गए हर कार्य में तारीफें बटोरती हैं। यह कोमल और संवेदनशील होती हैं और दूसरों की मदद करना इनकी प्रवृत्ति होती है।


कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

Post Bottom Ad

Responsive Ads Here

Pages