उदीयमान सूर्य को अर्घ्य के साथ ही चैती छठ संपन्न - deshduniyaweb

deshduniyaweb

Local, National and International News

Breaking

सोमवार, 19 अप्रैल 2021

उदीयमान सूर्य को अर्घ्य के साथ ही चैती छठ संपन्न

 

DDW DESK : उदीयमान सूर्य को अर्घ्य के साथ ही चैती छठ का महापर्व संपन्न हो गया। चार दिवसीय महापर्व के अंतिम दिन तड़के ही व्रती पूजन स्थल पर पहुंच कर भगवान भास्कर की प्रतिक्षा करने लगे। जैसे ही सूर्य देव का उदय हुआअर्घ्य देने का सिलसिला शुरू हो गया। और इसी अर्घ्य के साथ ही लोक आस्थ का यह महापर्व संपन्न हो गया।
      झारखंड के विभिन्न जलाशयों में संध्याकालीन व प्रातःकालीन अर्घ्य समर्पित किया गया। कोरोना काल में इस बार छठ घाटों की तस्वीर अन्य वर्षों से काफी अलग थी। कई व्रतियों ने तो अपने घरों में कृत्रिम घाट तैयार कर भगवान सूर्य की आराधना की। हलांकि घाटों पर कोरोना गाइडलाइन का अनुपालन किया जा रहा था। दूसरी ओर प्रशासन द्वारा भी इस बात पर ज्यादा जोर दिया जा रहा था कि घाट जा रहे लोग कोरोना गाइडलाइन का पूरी तरह से पालन करे। 

                  

छत पर ही अर्घ्य देते व्रती



मालूम हो कि शुक्रवार को ही नहाय खाय के साथ चैती छठ की शुरूआत हो गयी थी। शनिवार को खरना किया गया था। खरना के साथ ही व्रतियों ने 36 घंटे का निर्जला उपवास शुरू किया। इसी क्रम में रविवार को संध्याकालील अघ्र्य दिया गया तथा सोमवार को प्रातःकालीन अध्र्य दिया गया। सोमवार को दिए गए दूसरे अर्घ्य के साथ ही चैती छठ महापर्व संपन्न हो गया। 

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

Pages