नवंबर माह में होने वाले व्रत त्योहार की सूची - deshduniyaweb

deshduniyaweb

Local, National and International News

Breaking

शनिवार, 30 अक्तूबर 2021

नवंबर माह में होने वाले व्रत त्योहार की सूची

- नवंबर माह में होने वाले व्रत त्योहार की सूची 

 - लक्ष्मी पूजन के लिए तीन मुहूर्त निर्धारित 


 


DDW DESK - लोक आस्था का महापर्व छठ नवंबर में होगा। आइये इस पोस्ट में क्रम से जानते हैं नवंबर माह में होने वाले व्रत त्योहार के बारे में।
1 नवंबर 2021 - रम्भा एकादशी
पाप मुक्ति तथा सुखी जीवन के लिए किया जाने वाला एकादशी व्रत का मान सोमवार अर्थात एक नवंबर को होगा।
 

2 नवंबर 2021 - धनतेरस
धनतेरस यानी धनत्रयोदशी का मान 2 नवंबर को होगा। औषधि प्रतिष्ठानों में धन्वन्तरि जयंती मनाई जायेगी। धनतेरस के उपलक्ष्य में धन ऐश्वर्य वृद्धि की कामना से लक्ष्मी जी के प्रतीक स्वरूप बर्तन, सोना-चांदी इत्यादि  खरीदने तथा संग्रह करने की परंपरा है।

3 नवंबर 2021 - नरक चतुर्दशी
मास शिवरात्रि व नरक चतुर्दशी का मान 3 नवंबर अर्थात बुधवार को होगा।

4 नवंबर 2021 - दीपावली
दीपावली  का उत्सव 4नवंबर यानी गुरूवार को होगा। इस प्रसिद्ध पर्व को देश भर में सोल्लास मनाया जायेगा। प्रत्येक सनातन धर्मी के घर एवं व्यवसायिक प्रतिष्ठान तथा मठ, देवालय आदि दीप से सुसज्जित किए जायेंगे। वाराणसी से प्रकाशित पंचांगों के अनुसार लक्ष्मी पूजन के लिए तीन मुहूर्त निर्धारित किए गए हैं। दिन में कुंभ लग्न 1 बजकर 14 मिनट से 2 बजकर 46 मिनट तक रहेगा वहीं सर्वोत्तम स्थिर वृष लग्न शाम 5 बजकर 52 मिनट से 7 बजकर 49 मिनट तक रहेगा। इसके अलावा महानिशा में स्थिर सिंहलग्न 12 बजकर 20 मिनट से 2 बजकर 36 मिनट तक रहेगा। दीपावली की शेष रात्रि सूप आदि बजाकर दरिद्र का निस्सारण एवं लक्ष्मी का पर्दापण कराया जायेगा।

5 नवंबर 2021 - गोवर्धन पूजा
पांच नवंबर शुक्रवार को पूर्वाह्न प्रतिपदा में अन्नकूट मनाया जायेगा। गोवर्धन पूजा भी परंपरागत तरीके से मनाया जायेगा।

6 नवंबर 2021- भइया दूज
भइया दूज अर्थात भातृ द्वितीया का मान 6 नवंबर को होगा। इसी दिन चित्रगुप्त पूजा व कलम, दावात की भी पूजा की जायेगी।

8 नवंबर से 11 नवंबर 2021 - छठ व्रत
डाला छठ के त्रिदिवसीय अनुष्ठान का क्रम 8 नवंबर सोमवार से अपनी परंपरा अनुसार प्रारंभ हो जायेगा। छठ का मुख्य पर्व 10 नवंबर बुधवार को अस्ताचलगामी सूर्य को अघ्र्य देने के साथ प्रारंभ हो जायेगा एवं रात भर तप पूर्ण प्रतीक्षा के बाद अगले दिन 11 नवंबर को उगते हुए सूर्य को अघ्र्य देकर इस कठिन अनुष्ठान को पूर्ण कर पारण कर लिया जायेगा।

12 नवंबर 2021 - गोपाष्टमी
गेपाष्टमी का प्रसिद्ध पर्व 12 नवंबर शुक्रवार को मनाया जायेगा। इस पर्व में अलंकृत गौ को चारा-दाना खिलाकर पूजा व परिक्रमा की जायेगी।

13 नवंबर 2021 -  अक्षय नवमी
अक्षय नवमी का प्रसिद्ध पर्व 13 नवंबर षनिवार को मनाया जायेगा। इस अवसर पर आंवला वृक्ष का पूजन किया जाता है तथा उसके समीप ही पकवान बनाकर भगवान बिश्णु को अर्पित करते हुए परिजनों के बीच भोजन करने व कराने की परंपरा है।

15 नवंबर 2021 - हरिप्रबोधनी एकादशी


कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Pages