आचार्य विशुद्ध सागर जी महासराज ने मधुबन से किया विहार - deshduniyaweb

deshduniyaweb

Local, National and International News

Breaking

मंगलवार, 14 दिसंबर 2021

आचार्य विशुद्ध सागर जी महासराज ने मधुबन से किया विहार

 उमड़ा जनसैलाब
देशदुनियावेब डेस्क : दोपहर  लगभग दो बजे का समय है, और जैन धर्मावलंबियों के प्रमुख तीर्थस्थल मधुबन का मुख्य मार्ग तीर्थयात्रियों से खचाखच भरा हुआ है। जैसे-जैसे आचार्य विशुद्ध सागर जी महाराज ससंघ आगे बढ़ रहे हैं भीड़ भी उन्हीं के साथ आगे बढ़ रही है। उस भीड़ में शामिल हरेक व्यक्ति न केवल महाराज श्री का दर्शन करना चाहता है बल्कि अचार्य श्री का चरण छूते हुए आर्शाीवाद प्राप्त कर अपना जीवन धन्य कर लेना चाहता है। कोई गुरूवर के समीप कुछ क्षण व्यतीत करना चाह रहा है तो  कुछ गुरूदेव के जयकारे लगा रहा है तो किसी ने अगले दिन तक महाराज श्री के साथ पदयात्रा करने की योजना बना ली है। मधुबन की सीमा से बाहर जाने में असमर्थ भक्तों का एक बड़ा वर्ग अपने पूज्य गुरू को नम आंखें से तब तक देखता रह जाता है कि जब तक कि वे आंखें से ओझल नहीं हो जाते।
           उपर का यह चित्र उस मंगल वेला की है जब अचार्य विशुद्ध सागर जी महाराज ने मधुबन से मंगल विहार किया। इस अवसर पर मुख्य मार्ग में जनसैलाब उमड़ पड़ा था। मालूम हो कि मधुबन स्थित श्री दिगंबर जैन तेरहपंथी कोठी में वर्षाकालीन चातुर्मास आराधना पूर्ण कर अन्य धार्मिक कार्यक्रमों व प्रतिष्ठाओं को संपादित करते हुए सोमवार को मधुबन से मंगल विहार किया। मधुबन में आचार्य श्री के सान्निध्य में कई धार्मिक कार्यक्रम आयोजित किए गए।
     जैनाचार्य का श्री संघ सोमवार को मधुबन से निकलकर डुमरी प्रखंड के चैनपुर मध्य विद्यालय में रात्रि प्रवास किया। वहीं मंगलवार सुबह आचार्य श्री इसरी बाजार स्थित जैन मंदिर व धर्मशाला पहुंचे। बताया गया कि यहां के बाद वे हजारीबाग जायेंगे तत्पशचात बिहार प्रदेश में यात्रा करेंगे।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Pages