झारखंड के पूर्व मुख्यमंत्री ने पारसनाथ में रखी गर्भगृह की आधारशिला - deshduniyaweb

deshduniyaweb

Local, National and International News

Breaking

सोमवार, 13 दिसंबर 2021

झारखंड के पूर्व मुख्यमंत्री ने पारसनाथ में रखी गर्भगृह की आधारशिला

आधारशिला रखते बाबूलाल
 देशदुनियावेब डेस्क : आदिवासी समाज में पारसनाथ पर्वत मरांग बुरू के रूप में जाना जाता है जो पूज्यनीय व आस्था का प्रतीक है। आस्था के इस केंद्र के सर्वांगिण विकास के लिए आदिवासी समाज कटिबद्ध है। और इन्हीं बातों को ध्यान में रखते हुए झारखंड के पूर्व मुख्यमंत्री बाबूलाल मरांडी ने सोमवार को पर्वत स्थित दिशोम मंाझाी थान के गर्भगृह निर्माण की आधारशिला रखी।
        बताया जाता है कि इस कार्यक्रम की तैयारी बीते कई दिनों से की जा रही थी। तय समय पर तय स्थान पहुंचकर श्री मरांडी ने पहले से चल रहे पूजा कार्यक्रम में भाग लिया। आदिवासी परंपरा से पूरे विधि विधान के साथ पूजा की गयी। पहले मांझी थान में उन्होंने पूजा अर्चना की जिसके बाद मांझी थान के पास बनने वाले गर्भगृह के शिलापूजन करते हुए वहां शिलान्यास भी किया। इस बाबत सावंत सुसार बैसी के अर्जुन मरांडी ने कहा कि जिस तरह पारसनाथ पहाड़ जैन धर्म का विश्व प्रसिद्ध तीर्थस्थल है उसी प्रकार यहां का मांझी थान भी संथाल का विश्व प्रसिद्ध तीर्थस्थल है।इस स्थल को संथाल के लिए भी पर्यटन स्थल बनाया जायेगा। इसी को ले यहां एक भवन बनेगा। इस भवन में गर्भगृह बनेगा।बता दें कि इस शिलान्यास कार्यक्रम को ले  तीन दिनों से यहां तैयारी की जा रही थी। कार्यक्रम स्थल पर बाबुलाल मरांडी का जोरदार स्वागत किया गया। आदिवासी महिला व बालिकाएं पारंपरिक नृत्य  प्रस्तुत कर रही थी।सुरक्षा के लिए भी पहाड़ पर व्यापक व्यवस्था की गई थी। कार्यक्रम में नुनका टुडू, सिकंदर हेम्ब्रम, बुधन हेम्ब्रम समेत कई लोग उपस्थित थे। 

पूजनस्थल में बाबूलाल व अन्य


www.deshduniyaweb.com में धार्मिक व सांस्कृतिक कार्यक्रमों पर आधारित खबर प्रकाशित करते हैं। अगर आपके आसपास भी कोई धार्मिक कार्यक्रम हो रहा है तो आप हमें कार्यक्रम का पूरा विवरण व तस्वीर भेज सकते हैं। हम सहर्ष प्रकाशित करेंगे। कार्यक्रम से संबंधित जानकारी deshduniyaweb@gmail.com पर मेल करें।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Pages